मैं चाहता हूं कि ‘भोजपुरी रतन’ भोजपुरी गीत-संगीत की मर्यादा का मापदंड बने- रत्‍नाकर कुमार

admin

‘‘भोजपुरी के श्रोता या दर्शक अश्‍लील थे नहीं, उन्‍हें बना दिया गया। लेकिन अब वो वक्‍त आ गया है कि अश्‍लीलता के सामने श्‍लीलता की एक लंबी लकीर खींची जाये। आज यू ट्यूब पर कम से कम सौ म्‍यूजिक कंपनियां अपनी उपस्‍थिति दर्ज करा रही हैं। लेकिन उन्‍हें साफ-सुथरे गीत […]

Subscribe US Now