Menu
0 Comments

 

पुलवामा में हुये आतंकी हमले मेंसीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने के बाद पूर्व क्रिकेटर और कपिल शर्मा के शो में जज की तरह बैठक्‍र शेरो-शायरी कर दर्शकों का दिल बहलानेवाले नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा दिये गये विवादित बयान के बाद देश में हंगामा हो गया था। सिद्धू के उसी बयान को गंभीरता से लेते हुये फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिनेइम्पलाईज ( एफडब्लूआईसीई) ने गोरेगांव के दादा साहेब फाल्के चित्रनगरी (फिल्म सिटी) के प्रबंध निदेशक को एक पत्र लिखकर साफ-साफ कह दिया है कि स्टूडियो में नवजोत सिंह सिद्धू और पाकिस्तानी कलाकारों तथा गायकों के प्रवेश पर पूरी तरह रोक लगायी जाये और उन्‍हें किसी भी शूटिंग में हिस्‍सा लेने अनुमति न दी जाये। 
फिल्मसिटी प्रबंधन को यह पत्र फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने इम्प्लाईज के महासचिव अशोक दूबे ने लिखा है। पत्र में साफ कहा गया है कि जम्मू काश्मीर के पुलवामा की घटना के बाद पूरे देश में मातम पसरा है। लोगों में जबर्दस्‍त गुस्‍सा है। हम भारतीयों ने शपथ ली है कि एक एक जवान की शहादत का बदला आतंकियों से लिया जायेगा।

पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए उस हमले के विरोध में हमने फिल्मसिटी गेट पर 17 फरवरी को पाकिस्तान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया तथा शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। फिल्म इंडस्ट्रीज से जुड़े सभी कैटेगरी के लोग शामिल हुये थे उस कार्यक्रम में।

फेडरेशन के अध्यक्ष बी.एन. तिवारी ने कहा- हमारे लिये सबसे पहले देश है और ऐसा कोई भी बयान दिया जाता है, जिससे देश को क्षति पहुंचती है या देश के हितों के खिलाफ काम करती है, तो उसे हम माफ नहीं करनेवाले हैं। इसी कारण नवजोत सिंह सिद्धू पर फेडरेशन ने प्रतिबंध लगाया है।

श्री दुबे ने फिल्मसिटी प्रबंध निदेशक को लिखे पत्र में स्पष्ट किया है कि सोनी इंटरटेनमेंट चैनल के ‘द कपिल शर्मा शो’ से नवजोत सिंह सिद्धू को हटाने की अपील की गयी थी। फेडरेशन की अपील पर सोनी टीवी ने तत्काल शो से नवजोत सिंह सिद्धू को हटा दिया। अपने निवेदन में श्री दुबे ने फिल्मसिटी प्रबंधन से कहा है कि नवजोत सिंह सिद्धू को फिल्मसिटी जैसी पवित्र जगह पर प्रवेश न करने दिया जाए। साथ ही फेडरेशन ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि जिस किसी भी प्रोजेक्ट में नवजोत सिंह सिद्धू होंगे, उसमें फेडरेशन से संबद्ध सभी २९ यूनियनों के सदस्य काम नहीं करेंगे।

उन्होंने यह भी पत्र में लिखा है कि इसी के साथ फेडरेशन ने भारतीय सिनेमा, टीवी और मनोरंजन उद्योग में किसी भी पाकिस्तानी कलाकार या गायक को शामिल नहीं किये जाने का निर्णय लिया है और हमारा कोई भी सदस्य न केवल भारत में, बल्कि विदेशों में भी पाकिस्तानी कलाकारों और गायकों के साथ काम नहीं करेगा।

गौरतलब है कि फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने इम्पलाईज (एफडब्लूआईसीई) में कुल 29 यूनियनें शामिल हैं, जिनके सदस्‍यों की संख्‍या पांच लाख से ज्यादा हैं, जो फिल्म और टेलिविजन शो निर्माण की विभिन्न इकाइयों से जुड़े हैं।

-शशिकांत सिंह की टाइमलाइन से



Tags: , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!