मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या ईश्‍वर की कृपा से हुई – भाजपा विधायक का विवादास्‍पद बयान

अपने विवादास्‍पद बयानों को लेकर खबरों में रहनेवाले बलिया जिले के बैरिया के भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने बागपत जेल में यूपी के माफिया मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या पर अजीबोगरीब बयान देकर भाजपा के शीर्ष नेताओं के लिए एक मुसीबत खड़ी कर दी है। उनका कहना है कि एक न एक दिन अत्याचार का अंत होता ही है। अत्याचारी कोई भी, उसका भी अंत होता है।
सुरेंद्र सिंह का कहना है कि मुन्‍ना बजरंगी की कथित रूप से हत्‍या करने वाले राठी ने तो भगवान की भूमिका अदा की है। उन्‍होंने अपने बयान में यह भी कहा कि जेल के अधिकारी बिके हुए थे। तभी जेल के अंदर हथियार गया और पूर्व नियोजित प्लान के तहत राठी ने मुन्‍ना बजरंगी की हत्या की है। यह एक ईश्वरीय देन है। ईश्वर की कृपा से ही राठी के मन में हत्या की प्रेरणा जगी और एक बड़े अपराधी का अंत हुआ।
उन्‍होंने तर्क देते हुए कहा, ‘मुन्ना बजरंगी मारा गया, इसे ईश्वरीय व्यवस्था ही मानिए। संविधान (कानून) के तहत भले ही इसमें देर हो रही थी, लेकिन ईश्वर ने ऐसा करने के लिए किसी को प्रेरित कर दिया। और अंजाम आज दुनिया के सामने है।


विधायक जी ने कहा कि इस घटना से यह प्रामाणित हो गया कि जो जैसा करेगा, उसको उसका फल भी भुगतना पड़ेगा। सृष्टि का संचालन करने वाला अपने हिसाब से सृष्टि चलाता है। वह (सृष्टि संचालक) जिसको दंड दिलवाना चाहता है, जिस तरीके से दिलवाना चाहता है, वह दंड दिलवाता ही है।’
बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि मुन्ना बजरंगी का जीवन ब्यूरोक्रेसी के भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया। पैसे के बल पर जेल में क्या नहीं हो जाता? जेल में पैसे के बल पर सब कुछ संभव है। पैसा देकर जेल में असलहा लाया गया होगा। बागपत जेल के कर्मी बिके हुए थे। जेल कर्मियों के भ्रष्‍टाचार के कारण ही असलहा सुनील राठी तक पहुंचा होगा।
बीजेपी विधायक ने मुन्ना बजरंगी की पत्नी के योगी सरकार पर लगाए गए आरोपों को भी सिरे से खारिज करते हुए कहा कि उनके परिवार को इस तरह के आरोप लगाने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *