निरहुआ से आश्‍वासन मिलने के बाद ही एक्‍जीहिबिटर्स हुए ‘घूंघट में घोटाला’ को लगाने के लिए तैयार

निरहुआ एंटरटेनमेंट द्वारा निर्मित फ़िल्म ‘घूंघट मे घोटाला’ कल यानी 20 जुलाई से बिहार और झारखंड में रिलीज होने जा रही है। बात अगर सिनेमाघरों की संख्या की करें, तो छोटे- बड़े सेंटरो को मिलाकर 35-40 जगहों पर यह लगायी जानेवाली है। और इतने थियेटर इसलिए मिल पाये हैं, क्‍योंकि इस हफ्ते कोई दूसरी फिल्‍म रिलीज नहीं हो रही है।
हालांकि सूत्रों का यही कहना है कि अश्‍लील गीतों और दृश्‍यों से भरपूर इस फ़िल्म को लेकर सिनेमाघर के मालिकों मे कोई खास उत्साह नहीं है। वो पहले से ही तय मान बैठे हैं कि ‘घूंघट में घोटाला’ बॉक्स ऑफिस पर कोई करिश्‍मा नहीं दिखाने वाली नहीं है। इसका सबसे अहम कारण वो इसके हीरो प्रवेश लाल यादव को बता रहे हैं। सिनेमा मालिकों का कहना है कि जब सुपरस्टारों की फ़िल्म चल ही नहीं पाती हैं, तो बेचारे प्रवेश क्या कर लेंगे।
हमारे सूत्रों ने जब सिनेमाघर के मालिकों से विस्‍तार पूर्वक बात की और पूछा कि वो प्रवेश लाल यादव से जब इतने ही निराश हैं तो अपने सिनेमाघरों में उनकी फिल्‍म लगा क्यों रहे हैं, तो कमोबेश सभी का जवाब एक ही था। उनका कहना था कि जब फ़िल्म हमलोगों को एडवांस की रकम दिये बिना और बिना किसी टर्म्स के मिल रही है, तो लगाने में क्‍या नुकसान है भला।
इतना ही नहीं, सबसे खास बात तो ये पता चली है कि निरहुआ एंटरटेनमेंट ने उन्‍हें आश्‍वासन दिया है कि अगर सिनेमाघर के मालिकों को कोई नुकसान होता है तो उसकी भरपाई निरहुआ एंटरटेनमेंट करेगा। काश, निरहुआ ने यही दरियादिली अन्‍य निर्माताओं की फिल्‍मों के साथ भी दिखायी होती और उन्‍हें आश्‍वासन दिया होता कि अगर उनकी फिल्‍म नहीं चलती है तो वो अपनी फीस कम करके उनके नुकसान को शेयर करेंगे तो आज भोजपुरी इंडस्‍ट्री को शायद निर्माताओं के लिए तरसना नहीं पड़ता।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!