Menu
0 Comments

भोजपुरी इंडस्‍ट्री के कलाकारों का नैतिक पतन इस हद तक हो गया है कि अब खुद इंडस्‍ट्री के लोग भी इनकी अश्‍लीलता को बर्दाश्‍त नहीं कर पा रहे हैं। इसकी ताजा मिसाल कल फेसबुक पर देखने को मिल भी गयी, जब हमारी नजर हर्ष जैन की टाइमलाइन पर पड़ गयी। भोजपुरी के वरिष्‍ठ कलाकार, निर्माता, निर्देशक और लेखक हर्ष जैन ने अपनी टाइमलाइन पर एक पोस्‍ट लिखकर सीमा सिंह को इतने तल्‍ख शब्‍दों में लताड़ा है कि जरा भी कहीं शर्म नाम की चीज बची होगी तो सीमा ऐसी गलती आइंदा नहीं करेंगी।

दरअसल सीमा सिंह ने भोजपुरी फिल्‍म ‘आक्रोश’ के लिए एक आइटम गीत किया है। यू ट्यूब से प्राप्‍त विवरण के अनुसार इसे सियाराम फिल्‍म्‍स नामक चैनल पर अपलोड किया गया है। इस निहायत घटिया गीत का लेखक श्‍याम देहाती है और इसे गाया है अश्‍लीलता की दिग्‍गज गायिका इंदू सोनाली और खुद श्‍याम देहाती ने। संगीतकार भी खुद श्‍याम देहाती ही है। इसे सीमा सिंह और राजेश शर्मा पर फिल्‍माया गया है। वाह भाई वाह, चैनल का सियाराम फिल्‍म्‍स नाम इतना पवित्र और काम इतना घटिया।

जाहिर है, किसी का भी दिमाग ऐसी अश्‍लीलता को देखकर सनक सकता है और वही हुआ भी। हर्ष जैन जैसे इंडस्‍ट्री से जुड़े सीनियर शख्‍स का संयम जवाब दे गया। आखिर उनके परिवार ने इंडस्‍ट्री को एक मुकाम दिलाया है। आज अगर हम ‘गंगा किनारे मोरा गांव’ और ‘धरती मैया’ जैसी फिल्‍मों पर गर्व करते हैं तो इसीलिए कि हर्ष जैन के ही परिवार ने इन फिल्‍मों का निर्माण किया है।

सच तो यह है कि सीमा सिंह हों या श्‍याम देहाती, इनका नैतिक पतन हो चुका है। वर्ना इतना घटिया शब्‍द लिखना, फिर उसे गाना और उस पर भौंडी एक्‍टिंग करना। बर्दाश्‍त के बाहर है। इन पर जल्‍दी से जल्‍दी कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए।

 

 

Tags: , , ,

1 thought on “आइटम सांग देखकर संयम टूटा हर्ष जैन का तो सीमा सिंह को इस तरह जमकर लताड़ा”

  1. Deepak kumar pandey says:

    छि, घिना के रख देले बाड़े स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!